संदेश

लोकतंत्र क्या है?

1.
लोकतंत्र का यह मतलब है की शासन जनता के ऊपर आधारित है। यह जनता के लिए, जनता द्वारा और जनता के साथ यानी लोगों के लिए और लोगों द्वारा स्थापित व्यवस्था। लोकतंत्र में कोई सरी स्तंभ होती हैं। गणतंत्र के बहुत्वसरे पहलू है। कोई मभेद के अनुसार इसका ३ अंग होते हैं।  निम्नलिखित तीन अंग के आलावा दो और महत्य पूर्ण अंग अब जोर दे गए हैं। वह है मीडिया और सोशल मीडिया। न्यायपालिका, कार्यकारी और विधानमंडल लोकतांत्रिक शासन के प्राथमिक ३ अंग हैं। संविधानऑफ इंडिया के अनुसार यह शक्तियों को अलग करने के मोंटेस्क सिद्धांत द्वारा शासित है, जिसका अर्थ है कि सभी 3 अंग स्वतंत्र हैं, जहां तक ​​उनकी शक्ति का संबंध है लेकिन गोवाट की केवल कार्यात्मक आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए परस्पर निर्भर है। संसद द्वारा बनाए गए सभी कानूनों के संदेह के स्पष्टीकरण के लिए विधायकों द्वारा कानूनित सभी विधियां इसकी संवैधानिकता के लिए न्यायिक समीक्षा के अधीन हैं।  दूसरे शब्दों में यदि संसद द्वारा किए गए किसी भी कानून को अदालत में चुनौती दी जाती है और बुरा पाया जाता है तो इसे संविधान ओफ इंडिया को अल्ट्रा वायर्स घोषित किया जाएगा।  इसका मतल…